Notice: Function amp_has_paired_endpoint was called incorrectly. Function called while AMP is disabled via `amp_is_enabled` filter. The service ID "paired_routing" is not recognized and cannot be retrieved. Please see Debugging in WordPress for more information. (This message was added in version 2.1.1.) in /home/u793807974/domains/haabujigk.in/public_html/wp-includes/functions.php on line 5835

Notice: Function amp_has_paired_endpoint was called incorrectly. Function called while AMP is disabled via `amp_is_enabled` filter. The service ID "paired_routing" is not recognized and cannot be retrieved. Please see Debugging in WordPress for more information. (This message was added in version 2.1.1.) in /home/u793807974/domains/haabujigk.in/public_html/wp-includes/functions.php on line 5835
राजस्थान में कृषि एवं पशुपालन (Rajasthan me Krashi or Pashupalan) - gk website
Notice: Function amp_has_paired_endpoint was called incorrectly. Function called while AMP is disabled via `amp_is_enabled` filter. The service ID "paired_routing" is not recognized and cannot be retrieved. Please see Debugging in WordPress for more information. (This message was added in version 2.1.1.) in /home/u793807974/domains/haabujigk.in/public_html/wp-includes/functions.php on line 5835

Notice: Function amp_has_paired_endpoint was called incorrectly. Function called while AMP is disabled via `amp_is_enabled` filter. The service ID "paired_routing" is not recognized and cannot be retrieved. Please see Debugging in WordPress for more information. (This message was added in version 2.1.1.) in /home/u793807974/domains/haabujigk.in/public_html/wp-includes/functions.php on line 5835

Notice: Function amp_has_paired_endpoint was called incorrectly. Function called while AMP is disabled via `amp_is_enabled` filter. The service ID "paired_routing" is not recognized and cannot be retrieved. Please see Debugging in WordPress for more information. (This message was added in version 2.1.1.) in /home/u793807974/domains/haabujigk.in/public_html/wp-includes/functions.php on line 5835

Notice: Function amp_has_paired_endpoint was called incorrectly. Function called while AMP is disabled via `amp_is_enabled` filter. The service ID "paired_routing" is not recognized and cannot be retrieved. Please see Debugging in WordPress for more information. (This message was added in version 2.1.1.) in /home/u793807974/domains/haabujigk.in/public_html/wp-includes/functions.php on line 5835

Notice: Function amp_has_paired_endpoint was called incorrectly. Function called while AMP is disabled via `amp_is_enabled` filter. The service ID "paired_routing" is not recognized and cannot be retrieved. Please see Debugging in WordPress for more information. (This message was added in version 2.1.1.) in /home/u793807974/domains/haabujigk.in/public_html/wp-includes/functions.php on line 5835

Notice: Function amp_has_paired_endpoint was called incorrectly. Function called while AMP is disabled via `amp_is_enabled` filter. The service ID "paired_routing" is not recognized and cannot be retrieved. Please see Debugging in WordPress for more information. (This message was added in version 2.1.1.) in /home/u793807974/domains/haabujigk.in/public_html/wp-includes/functions.php on line 5835

राजस्थान में कृषि एवं पशुपालन (Rajasthan me Krashi or Pashupalan)

 राजस्थान में कृषि एवं पशुपालन
(Agriculture and animal husbandry in Rajasthan)

https://haabujigk.in/2020/09/rajasthan-ki-jal-vayu.html
कृषि-जलवायु-क्षेत्र-राजस्थान

✔️ राजस्थान की कुल कार्यशील जनसंख्या का लगभग 70% रोजगार की दृष्टि से प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष रूप से कृषि पर निर्भर है ।
✔️ 1966-67 आर्थिक वर्ष में एम.एस. स्वामी नाथन के द्वारा भारत में हरित क्रान्ति (Green revolution) का प्रारम्भ किया गया । हरित क्रन्ति

के जन्म दाता नार्मन बॉरलोग थे ।

✔️ देश की प्रथम पंचवर्षीय योजना में (1951-56) में कृषि के विकास को सर्वोच्च प्राथमिकता दी गई थी ।

✔️ सन् 1960-61 में गहन कृषि जिला कार्यक्रम देश के तीन जिलों में शाहबाद (बिहार) (Shahabad, Bihar), रायपुर (वर्तमान छत्तीसगढ़) (Raipur, Chhattisgarh) एवं अलीगढ़ (यू.पी.) (Aligarh (U.P.)) में प्रारम्भ किया गया था ।

✔️ राष्ट्रीय बागवानी मिशन (National Horticulture Mission) 2005-2006 में प्रारम्भ किया गया ।

✔️ राष्ट्रीय बांस मिशन (National Bamboo Mission) भारत सरकार द्वारा वर्ष 2006-07 में शुरू किया गया ।

✔️ राष्ट्रीय बीज निगम (National seed corporation) का गठन 1963 में हुआ था ।

✔️ इफको (IFFCO) की स्थापना 3 नवम्बर 1967 को हुई एवं कृभको (Kribhco) की स्थापना 17 अप्रेल 1980 को हुई ।

✔️ राष्ट्रीय बीज नीति की घोषणा केन्द्र सरकार द्वारा 18 जून 2002 को की गई ।
✔️ राज्य का प्रथम कृषि विज्ञान केन्द्र (Agricultural science center) 1974 में सीकर जिले के फतेहपुर (Fatehpur) नामक स्थान पर स्थापित किया गया । •
✔️ राजफेड़ (Rajfed) की स्थापना 1957 में हुई थी । इसका मुख्यालय जयपुर में स्थित है ।
✔️ भरतपुर जिले के सेवर (Saver) नामक स्थान पर 20 अक्टूम्बर 1993 को राष्ट्रीय सरसों अनुसंधान केन्द्र (Mustard Research Center) स्थापित किया गया ।
✔️ राष्ट्रीय बीजीय मसाला अनुसंधान केन्द्र (Algebraic Spices Research Center) अजमेर के तबीजी (Tabiji) में स्थित है।
✔️ राष्ट्रीय बेर एवं खजुर अनुसंधान केन्द्र (Plum and Date Research Center) बीकानेर (Bikaner) में स्थित है ।
✔️ केन्द्रीय कृषि अनुसंधान केन्द्र (Central Agricultural Research Center) दुर्गापुरा जयपुर (Durgapura Jaipur) में स्थित है ।
✔️ 15 अगस्त 1956 को रूस के सहयोग से सुरतगढ़ कृषि फार्म (Suratgarh Agricultural Farm) (गंगानगर) की स्थापना की गई । यह एशिया का सबसे बड़ा यान्त्रिक कृषि फार्म (Mechanical farm) है ।
✔️ जैतसर फार्म (Jaitsar Farm) गंगानगर में है । जिसे कनाड़ा के सहयोग से स्थापित किया गया था ।
✔️ राज्य कृषि उद्योग निगम 1965 में, राज्य कृषि विपणन बोर्ड 1974 में, राजस्थान राज्य बीज प्रमाणीकरण निगम 1977 में, राजस्थान राज्य बीज निगम 1978 में, कृषि विपणन निदेशालय 1980 में, तिलम संघ 3 जूलाई 1990 को गठित किया गया ।
✔️ राज्य में मक्का पर अनुसंधान कार्य बांसवाड़ा जिले के “बोखर (Bokhar) गाँव में होता है ।
✔️ राज्य में कपास को सफेद सोना, बांस को हरा सोना, अफीम को काला सोना एवं ज्वार को गरीब की रोटी (White Gold to Cotton, Green Gold to Bamboo, Black Gold to Opium and Poor Bread to Jowar) कहा जाता है ।
✔️ राज्य में निजी क्षेत्र की प्रथम कृषि मण्डी 2005 में केथून (कोटा) (Kethun, Kota) में स्थापित की गई ।
✔️ राज्य की प्रथम किसान कम्पनी (Farmer Company) का गठन बाकानी गाँव (झालावाड़) (Bakani Village, Jhalawar) में किया गया ।
✔️ 28 फरवरी 2009 को राज्य के प्रथम किसान आयोग का गठन किया । ✔️ राज्य को 10 कृषि जलवायु जोन में विभाजीत किया गया ।

कृषि के अन्य कार्यक्रम
(Other Agriculture Programs)

श्वेत क्रान्ति (White revolution) दुग्ध उत्पादन
भुरी क्रान्ति (Brown revolution) खाद्यान प्रसंस्करण
पीली क्रान्ति (Yellow revolution) तिलहन उत्पाद से संबंधित (सर्वाधिक उत्पादन सरसों के क्षेत्र में)
नीली क्रान्ति (Blue revolution) मत्स्य उत्पादन।
लाल क्रान्ति (Red revolution) टमाटर/मांस उत्पादन से सम्बन्धित
गोल क्रान्ति (Round revolution) आलू उत्पादन से संबंधित ।
इन्द्र धनुष क्रान्ति (Indra Dhanush Revolution) सभी क्रान्तियों पर निगरानी हेतु ।
रजत क्रान्ति (Silver revolution) अण्डा उत्पादन
✔️ राजस्थान में मुख्य रूप से तीन फसल चक्र आते है :-
1. खरीफ का मौसम (Kharif season):- इसे राजस्थान में चौमासा एवं सावणु कहा जाता है। यह जुलाई प्रारम्भ से अक्टूम्बर तक चलता है ।
2. रबी का मौसम (Rabi season):- इसे राजस्थान में सियालु (सर्दी) का मौसम कहा जाता है । यह नवम्बर से प्रारम्भ होकर मार्च तक चलता है ।
3. जायद का मौसम (Zayed season):- इसे राजस्थान में उनालू (गर्मी) का मौसम कहा जाता है । यह अप्रैल प्रारम्भ से लेकर जून अन्त तक चलता है।
✔️ राष्ट्रीय बीज नीति 2002 केन्द्रीय सरकार द्वारा 18 जून 2002 को घोषित की गई ।
✔️ डीजल के विकल्प के रूप में रतनजोत (जैट्रोफा) (Ratanjot, Jatropha) के तेल की खोज भारतीय रासायनिक तकनीकी संस्थान हैदराबाद (Indian Institute of Chemical Technology Hyderabad) के वैज्ञानिकों ने की।
✔️ राज्य के कोटा एवं बारां जिले में मसालों के समग्र उत्पादन की दृष्टि से महत्पूर्ण है ।
✔️ राजस्थान का पशुधन की दृष्टि से राज्य में दूसरा स्थान है ।
✔️ ऊँट की प्रसिद्ध नस्लों के नाम नाचना व गोमठ है ।

✔️ केन्द्रीय ऊँट प्रजनन केन्द्र (Central Camel Breeding Center) जोहड़बीड़ बीकानेर (Joharbad Bikaner) में स्थित है ।

✔️ सबसे अधिक पशुमेले नागौर जिले में आयोजित किये जाते है ।

✔️ भैड़ की चोकला नस्ल की ऊन सर्वोत्तम होती है ।

✔️ राजस्थान भारत का सबसे अधिक ऊन उत्पादन 40% करता है ।

✔️ राजस्थान में ऊन की सबसे बड़ी मण्डी बीकानेर में स्थित है ।

✔️ आय की दृष्टि से राजस्थान का सबसे बड़ा पशुमेला परबतसर नागौर (Parbatsar Nagaur) में लगता है ।

✔️ बाजरा को फसलों में राजस्थान का गौरव कहा जाता है ।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,592FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles


Notice: Function amp_has_paired_endpoint was called incorrectly. Function called while AMP is disabled via `amp_is_enabled` filter. The service ID "paired_routing" is not recognized and cannot be retrieved. Please see Debugging in WordPress for more information. (This message was added in version 2.1.1.) in /home/u793807974/domains/haabujigk.in/public_html/wp-includes/functions.php on line 5835

Notice: Function amp_has_paired_endpoint was called incorrectly. Function called while AMP is disabled via `amp_is_enabled` filter. The service ID "paired_routing" is not recognized and cannot be retrieved. Please see Debugging in WordPress for more information. (This message was added in version 2.1.1.) in /home/u793807974/domains/haabujigk.in/public_html/wp-includes/functions.php on line 5835

Notice: Function amp_has_paired_endpoint was called incorrectly. Function called while AMP is disabled via `amp_is_enabled` filter. The service ID "paired_routing" is not recognized and cannot be retrieved. Please see Debugging in WordPress for more information. (This message was added in version 2.1.1.) in /home/u793807974/domains/haabujigk.in/public_html/wp-includes/functions.php on line 5835