राजस्थान की प्रमुख बावड़ियाँ (झालरा) Major Bawadis of Rajasthan (Jhalra)

 राजस्थान की प्रमुख बावड़ियाँ (झालरा)
Major Bawadis of Rajasthan (Jhalra)

राजस्थान -की-प्रमुख-बावड़ियाँ-(झालरा)
राजस्थान -की-प्रमुख-बावड़ियाँ-(झालरा)

1. रानी जी की बावड़ी = बूंदी

विशेष विवरण = राव राजा अनिरूद्ध सिंह की विधवा नाथावत जी रानी ने 18 वी सदी के पूर्वाद्ध में करवाया यह बावड़ियों की सिरमोर कहलाती है ।
2. अनारकली की बावड़ी = बूंदी

विशेष विवरण = रानी नाथावती की दासी अनारकली द्वारा बूंदी में कराया गया, गुल्ला बावड़ी, चम्पाबाग की बावड़ी, पठान की बावड़ी आदि यही स्थित है ।

राजस्थान का जिला दर्शन 👉 click here
राजस्थान का भूगोल 👉 click here
राजस्थान का इतिहास 👉 click here
Rajasthan Gk Telegram channel 👉 click here 

3. हाड़ी रानी की बावड़ी = टोडारायसिंह (टोंक)
विशेष विवरण = भूल-भूलैया सीढ़ियों के लिये प्रसिद्ध है । सरड़ा रानी की बावड़ भी यहीं स्थित है ।
4. चमना बावड़ी = शाहपुरा (भीलवाड़ा)
विशेष विवरण = इस तीन मंजिल बावड़ी का निर्माण चमना नाम एक गणिका के लिये महाराजा उम्मेद सिंह प्रथम ने करवाया

5. सीतारामजी की बावड़ी = भीलवाड़ा

विशेष विवरण = इस बावड़ी में एक गुफा बनी हुई है, इसमें बैठकर राम स्नेही सम्प्रदाय के प्रर्वतक स्वामी राम चरण जी ने 36,000 पदों की रचना
की । चौखी बावड़ी व बाईराज की बावड़ी भी यहीं स्थित है ।
6. औस्ती जी की बावड़ी = शाहबाद (बारां)

विशेष विवरण = तपसी की बावड़ी भी यही स्थित है ।
7. नीमराणा की बावड़ी = नीमराणा (अलवर)

विशेष विवरण = 9 मंजिल की है, इसका निर्माण टोडरमल द्वारा करवाया गया
8. नौलखा बावड़ी = डूंगरपुर

विशेष विवरण = राजा आसरण की पत्नी प्रेमल देवी ने कराया । इसके अलावा महारावल उदय सिंह ने उययवाव बावड़ी का निर्माण करवाया त्रिमुखा बावड़ी का निर्माण महाराणा राजसिंह की रानी रामरसदे ने करवाया जो भी यहीं स्थित है ।
9. महिला बाग झालरा = जोधपुर

विशेष विवरण = 1776 ई. में विजय सिंह की पासवान गुलाबराय ने करवाया, यहाँ महिलाओं का लौटिया मेला आयोजित होता है । तापी बावड़ी भी यहीं स्थित है । देवकुण्ड, नैणसी बावड़ी, श्रीनाथजी का झालरा, हाथी बावड़ी आदि भी यहीं स्थित है
10. गड़सीसर सरोवर = जैसलमेर

विशेष विवरण = जैसलमेर निर्माण 1340 ई. के समय गड़सी सिंह ने इस कृत्रिम सरोवर का निर्माण करवाया । इसका प्रवेश द्वार टीलों का पोल के रूप में विख्यात है ।
11. मृगा बावड़ी = सिरोही

12. मड़तणी बावड़ी = झुन्झनु
विशेष विवरण = खेतानों की बावड़ी, जीतमल का जोहड़ा, तुलस्यानों की बावड़ी चेतनदास की बावड़ी इत्यादि भी यहीं स्थित है ।

13. बाई जी तालाब = बाँसवाड़ा
विशेष विवरण = जगमाल की रानी लाछ कुँवरी द्वारा करवाया गया ।

14. त्रिमुखी बावड़ी = उदयपुर
विशेष विवरण = महाराणा राजसिंह की रानी रामरसदे द्वारा 1675 में देबारी के समीप बनवाई, इसको जया बावड़ी के नाम से जाना जाता है।

15. घोसुण्ड़ी बावड़ी = चित्तौड़गढ़
विशेष विवरण = महाराणा रायमल की रानी श्रृंगार देवी द्वारा 1473 से 1509 में करवाया गया इसके पश्चिम में चामुण्डा माता का मन्दिर बना हुआ है।
16. लाखोलाव तालाब = नागौर

विशेष विवरण = लक्खी बंजारे द्वारा मारवाड़ के मुण्डला गाँव में बनवाया

17. पन्नाशाह तालाब = झुंझुनू

विशेष विवरण = सेठ पन्ना लाल शाह द्वारा 1870 में खेतड़ी में बनवाया

18. चाँद बावड़ी = दौसा
विशेष विवरण = आभानेरी में स्थित है ।

19. बाटाडू कुआ = बाड़मेर

विशेष विवरण = इसे “रेगिस्तान का जल महल’ के नाम से जाना जाता है, इसका निर्माण सिणधरी के ठाकर गुलाब सिंह ने करवाया।
20. नीमला कुआँ = जोधपुर

21. साठी कुआँ = फलौदी
विशेष विवरण = सेठ सांगीदास द्वारा निर्मित

22. चौतीन कुऑ = बीकानेर
विशेष विवरण = इसे अनुपसागर के नाम से भी जाना जाता है ।

23. लखसागर कुऑ = बीकानेर
विशेष विवरण = अलखगिरी मत के अनुयायी लच्छीराम द्वारा करवाया गया
24. मूल सागर = जैसलमेर

विशेष विवरण = इस सागर के किनारे रोकड़िया गणपति का प्रसिद्ध मन्दिर स्थित है।
25. अमर सागर = जैसलमेर
26. एंजन बावड़ी = जोधपुर
विशेष विवरण = रावटी के पास महाराजा मानसिंह की रानी एंजन कँवर द्वारा।
27. गुल्ला बावड़ी = बूंदी
विशेष विवरण = इसे गुलाब बावड़ी भी कहते है।
28. पथराला जोहरा = चुरू
विशेष विवरण = इनके अलावा कालरा जोहरा, पीथाणा जोहरा, बाजिणा जोहर आदि यही पर स्थित है।
29. सरड़ा बावड़ी = टोंक
विशेष विवरण = टोड़रायसिंह में स्थित है ।
30. ईसरदा का कुआँ = सवाई माधोपुर
विशेष विवरण = शासक माधोसिंह प्रथम द्वारा रेल्वे निर्माण के समय भाप के इंजन व पेयजल के लिये कराया।


Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,376FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles